पिंजरे के पंछी रे, Pinjre ke Panchi Re – Lyrics in Hindi

पिंजरे के पंछी रे…,

Pinjre Ke Panchi Re, पिंजरे के पंछी रे…, Lyrics in Hindi. This is the Album Song of Pradeep Bhajan. This song is mainly on the Bird grief story.

 

Singer – Pradeep Kumar

पिंजरे के पंछी रे, तेरा दर्द न जाने कोय |

तेरा दर्द न जाने कोय ||

बाहर से तू खामोश रहे तू,भीतर भीतर रोय |

तेरा दर्द न जाने कोय…

तेरा दर्द न जाने कोय

कह न सके तू, अपनी कहानी,

तेरी भी पंछी, क्या जिन्दगानी रे,

विधि ने तेरी कथा लिखी है,

आँसू ने कलम डुबोये,

तेरा दर्द ने जाने कोय …

तेरा दर्द न जाने कोय ||

चुपके चुपके, रोने वाले,

छुपाके रखना, दिल के छाले रे,

ये पत्थर का देश है पगले,

कोई न तेरा होय,

तेरा दर्द ने जाने कोय …

तेरा दर्द न जाने कोय ||

Leave a Comment